निदेशक के बारे में


प्रो. एम. पुष्पावती

 निदेशक, अखिल भारतीय वाक् एवं श्रवण संस्थान , मैसूर

निदेशक के बारे में

प्रो. एम. पुष्पावती ने अपनी स्नातक [B.Sc. (वाक् और श्रवण)], स्नातकोत्तर [M.Sc. (वाक् और श्रवण)], और Ph.D. (वाक् और श्रवण) की उपाधि अखिल भारतीय वाक् श्रवण संस्थान, मानसगंगोत्री, मैसूरु, से ली है।
उन्हें स्नातक, स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट छात्रों को पढ़ाने का 22 वर्षों का अनुभव है। वह वाक्‍- भाषा दोष रोग-निदान शास्र में प्राध्यापक हैं और प्रस्तुत निदेशक के रूप में भी कार्यपालन कर रही हैं। उनकी आसक्त के विशेष क्षेत्रों में वाक्‍ के विकारों, वाक्‍ के विकारों से संबंधित ओरोफेसियल विसंगतियों और आवाज संबंधी विकारों इत्यादि सम्मिलित हैं। उन्होंने 75 स्नातकोत्तर और 8 डॉक्टरेट छात्रों का निबंध और शोध प्रबंध का मार्गदर्शन किया है। वह भारत में कई विश्वविद्यालयों के पाठ्‍यक्रम समिति और परीक्षकों की समिति की सदस्य रही हैं।

उन्होंने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं में 75 वैज्ञानिक पत्र प्रकाशित किए हैं। उन्होंने विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, जैव-प्रौद्योगिकी विभाग, IMPRINT और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद द्वारा वित्त पोषित कई बाह्य परिय